तुम्हे रंग लगाएंगे श्याम बाबा

फागुन में मस्ती की छाई बहार
भक्तों के मन में है खुशियां अपार
खेलेंगे तुम संग होली आई है बाबा टोली
होली खेल के जाएंगे -श्याम बाबा
तुम्हें रंग लगाएंगे श्याम बाबा
अबके धूम मचाएंगे


है पूरी तैयारी रंगों की पिचकारी
लाए हैं गिरधारी- काहे शरमाये मेरे मोहन मुरारी
सुन ले खाटू के राजा-मंदिर से बाहर आ जा
रंग अबीर उड़ाएंगे श्याम बाबा....

तेरे लाखो प्रेमी आवे-निशान चढ़ावे
सब झूमे नाचे गावे- आ करके क्यों ना तू मस्ती बढ़ावे
भक्तों का भाग जगा दे- हम सब को रंग लगादे
वरना शोर मचाएंगे श्याम बाबा....

ग्यारस पर हर दम आये फागण का दर्शन पाए
गुलाल भी लाए- अपने हाथों से तुमको रंग लगाए
अब ना लेना परीक्षा-दया की देदे बिक्षा
तेरी महिमा गाएंगे श्याम बाबा...

भजन गायक
प्रिंस जैन (7840820050)
शुभम रिठालिया (8750104889)
download bhajan lyrics (63 downloads)