किरपा को क्या मैं गाऊ

किरपा को क्या मैं गाऊ किरपा से गा रहा हु,
खुश किस्मत है मेरी इनको रिजा रहा हु,
किरपा को क्या मैं गाऊ किरपा से गा रहा हु,

भावो के समंदर में जिस ने मुझे तिराया,
उनके दिए ही भावो में उनको डूबा रहा हु,
किरपा को क्या मैं गाऊ किरपा से गा रहा हु,

थोड़ा सा क्या सजाया मन में घुमान आ गया,
जिसने मुझे सजाया उसको सजा रहा हु,
किरपा को क्या मैं गाऊ किरपा से गा रहा हु,

सुनलो एह दुनिया वालो अंदर की बात है,
वो बीज वो रहा है और फल मैं खा रहा हु,
किरपा को क्या मैं गाऊ किरपा से गा रहा हु,

इनकी किरपा का वरनन ग्रंथो में भी न हो स्का,
सुभम रूपम जो भी सुना वो गुण गुना रहा हु,
किरपा को क्या मैं गाऊ किरपा से गा रहा हु,
download bhajan lyrics (72 downloads)