आओ मंदिर कीर्तन करिये

आओ मंदिर कीर्तन करिये,
रामायण दा सिमरन करिये,

चुन चुन बागा को फूल कलियाँ श्रद्धा दे हार बनाओ जी,
प्रभु वाल्मीक दी मूरत दे हस हस के गल विच पाओ जी,
मंदिर च ज्योत रोशन करिये,
आओ मंदिर कीर्तन करिये,
रामायण दा सिमरन करिये,

ढोलक चिमटा खड़ताल बजे इक ताल च बजड़ियाँ तालियां जी,
कर्मा वाले कीर्तन सुंदे ना जपदीयां कर्म वलियाँ जी,
तन खटिये सुखी जीवन करिये,
आओ मंदिर कीर्तन करिये,
रामायण दा सिमरन करिये,

रामायण दा हर इक आखर एह भेद आसा न दसदा है,
रजनीश पटी जग दा मालिक तेरे मेरे विच वसदा है,
अपने अन्द्रो दर्शन करिये ,
आओ मंदिर कीर्तन करिये,
रामायण दा सिमरन करिये,
download bhajan lyrics (19 downloads)