सारी उमर गवां लयी तूं

सारी उमर गवां लयी तूं
जिंदड़िये कुछ ना जहान विचो खट्टियाँ

क्यों करें तू माया माया, माया है दो पल दी छांयाँ
फँस के एहदे है मौज, क्यों होश भुल्ला लयी तूं
जिंदड़िये कुछ ना जहान विचो खट्टियाँ
सारी उमर गवां लयी तूं

जिंदड़िये कुछ ना जहाँन विच्चों खट्टियाँ
ना बचपन ना रही जवानी
ना रही अक्ख मस्तानी
आया बुढ़ापा जो जांदा नहीं हर चाल चला लई तूं
जिंदड़िये कुछ ना जहान विचो खट्टियाँ

सारी उमर गवां लयी तूं
जिंदड़िये कुछ ना जहान विचो खट्टियाँ

दुनियाँ तेन्नु प्यार सी करदी
प्यार वी बेशुमार करदी

बोल बोल के कोड ‘कंग’ दुश्मन बणा लई तूं
जिंदड़िये कुछ ना जहान विचो खट्टियाँ

सारी उमर गवां लयी तूं
जिंदड़िये कुछ ना जहान विचो खट्टियाँ
श्रेणी
download bhajan lyrics (192 downloads)