राम भजन कर प्राणी

राम भजन कर प्राणी तू तेरी दो दिन की जिंदगानी,
तू राम भजन कर प्राणी

काया माया बादल छाया,
मूरख मन का है भरमाया उड़ जाएगा सांस का पंक्षी,
फिर क्या है आणि जानी,
तू राम भजन कर प्राणी

मुख बोले राम की वाणी मनवा बोले राम की वाणी,
सजन स्नेही सुख के संगी दुनिया है चार दुरंगी ,
तू राम भजन कर प्राणी

जिस ने राम राम गुण गाया उस को लगे न दुःख की छाया,
निर्धन का धन राम नाम है मैं हु राम दीवानी,
तू राम भजन कर प्राणी
श्रेणी
download bhajan lyrics (467 downloads)