मेरे सँवारे के तो खेल निराले है

मेरे सँवारे के तो खेल निराले है,
निराले है जी निराले है,
अपने भगतो के सँवारे रखवाले है
मेरे सँवारे के तो खेल निराले है,

फरमान जग में इन्ही का चला है,
पता भी इनकी रजा से हिला है,
इनकी महिमा से हमतो अनजाने है
मेरे सँवारे के तो खेल निराले है,

विश्वाश भगवन सदा बढ़ता जाए,
कष्टों को सेह कर भी हम मुस्कुराये ,
हारो के आप तो साहरे है,
मेरे सँवारे के तो खेल निराले है,

पीड़ा हिरदये की तुम्हे ही सुनाऊ,
तुम सा मदत गार कहो कहा पाउ,
नंदू तो तेरे ही हवाले है
मेरे सँवारे के तो खेल निराले है,
download bhajan lyrics (474 downloads)