जो श्याम दर पे जाएगा जो श्याम जी को धायेगा

भये संकट और कभी का उनको कभी नहीं सताये गा,
जो श्याम दर पे जाएगा जो श्याम जी को धायेगा,
सांवरियां से जोड़े जो रिश्ता भव सागर तर जाएगा,
जो श्याम दर पे जाएगा जो श्याम जी को धायेगा,

सारे धामों से है निराला खाटू धाम हमाराहै,
हार गया जो दुनिया से उसे मिलता यहाँ सहारा है,
जीवन की खोई खुशियां सब पल भर पे पा जाएगा,
जो श्याम दर पे जाएगा जो श्याम जी को धायेगा,

शीश के दानी श्याम दानी तेरी महिमा बड़ी निराली है,
फूल तेरे हम बाग़ के बाबा तू बगियाँ का माली है ,
आगे तेरे पापियों का जोर कोई न चल पायेगा.
जो श्याम दर पे जाएगा जो श्याम जी को धायेगा,

हम भी आये आस लगाए नज़रे कर्म तुम कर देना,
भूले से अगर भूल हुई तो हम पे रेहम तू कर देना,
पा कर तेरी रेहमत छोटा दमन ले भर जाएगा,
जो श्याम दर पे जाएगा जो श्याम जी को धायेगा,
download bhajan lyrics (124 downloads)