मेरे मेहरा वाले सैयां

तू मेहरा करतिया नि मेरे मेहरा वाले सैयां,
सारा जग छड़ेया मैं इक आसा तेरे ते लाइयाँ,
तू मेहरा करतिया नि मेरे मेहरा वाले सैयां,

धरती कदे अम्बर विच सैयां बस तू ही तू समाया है,
गीता कुरआन भावे बाइबिल गुरुग्रंथ साहिब फ़रमाया है,
तनु अखि किसे ने देख्या नि तेरी दीद लई अखिया भर ाइयाँ,
तू मेहरा करतिया नि मेरे मेहरा वाले सैयां,

एथे सब कर्म दा मिलदा है जो जैसा करदा पा लेंदा,
ओह कदे न माडे कर्म करे जो दातिया तेरा ना लेंदा,
ओह परदे सब दे कज लेंदा तेरे नाम प्रीता पाइयाँ,
तू मेहरा करतिया नि मेरे मेहरा वाले सैयां,

इस नब्ज दा की है रुक जानी साहा दी कहानी मूक जानी,
चंगे नाल चंगा हुँदा है एह केहन्दी सतगुरु दी वाणी,
तेरे चरना विच माहि हीट गया गला दिल दियाँ आज सुनाइयाँ,
तू मेहरा करतिया नि मेरे मेहरा वाले सैयां,
श्रेणी
download bhajan lyrics (269 downloads)