तेरे मंदिरा दी शोभा है कमाल

तेरे मंदिरा दी शोभा है कमाल मैया मेरी झंडे वालिये,
तू ते करदी है सब नु निहाल मैया मेरी झंडे वालिये,

उचियाँ पहाड़ा विच तेरा बसेरा माँ,
विच गुफा दे विच लाया डेरा माँ,
तेरी महिमा बड़ी है बेमिसाल मैया मेरी झंडे वालिये,

दुरो दुरो तेरे भगत ने आउंदे,
कठिन चढ़ाइयाँ तेरी चढ़ दे ही जाउंदे,
नची गाई सारे पाउंदे ने धमाल,
मैया मेरी झंडे वालिये,

जग मग जग मग ज्योत तेरी जगदी,
शेर दी सवारी तेरी बड़ी प्यारी लगदी,
दर झूल दे ने झंडे सोहने लाल ,
मैया मेरी झंडे वालिये,

प्रिंस गाँधी तेरा भगत प्यारा माँ,
चरना दे विच एहनु देदे सहारा माँ,
राणा लिखे गुण गान तेरा लाल,
मैया मेरी झंडे वालिये,