महिमा सारा दिन गावा मैं

महिमा सारा दिन गावा मैं तेरे ही गुण गावा मैं दातिए,
कर दे दया अपनी मेरे तेरे जगराता करवा वा दातिए,
महिमा सारा दिन गावा मैं तेरे ही गुण गावा मैं दातिए,

तेरा ना लेके दाती बन जांदे ने गम सारे,
तनु तेरे भगत सारे लग ने प्यारे,
मेरे भी तू दुखड़े दूर करदे करदे मेरा भी भला,
कर दे दया अपनी मेरे तेरे जगराता करवा वा दातिए,
महिमा सारा दिन गावा मैं तेरे ही गुण गावा मैं दातिए,

तेरे दर ते जो भी आउंदा ओह्दी किस्मत बन दी ,
तेरा सिर ते हथ हो जिसदे ओहनू खुशियां मिलदी है ,
अरदास मेरी भी सुन दातिए कर दे तू अपनी दया,
कर दे दया अपनी मेरे तेरे जगराता करवा वा दातिए,
महिमा सारा दिन गावा मैं तेरे ही गुण गावा मैं दातिए,

जागीर राज पालखेड़े आले दर तेरे ते आये माँ,
तेरे दर तो खाली झोली भर के जाए माँ,
मनसा मेरिया भी पूरी कर दे चरना च देदे माँ जगह
कर दे दया अपनी मेरे तेरे जगराता करवा वा दातिए,
महिमा सारा दिन गावा मैं तेरे ही गुण गावा मैं दातिए,
download bhajan lyrics (10 downloads)