मेरी इक इक साह दे उते तेरा उपकार माँ

मेरी इक इक साह दे उते तेरा उपकार माँ,
मैनु घर भी मेरा लगे तेरा दरबार माँ,
जिन्दी विच सब कुछ दिता सो तेरे शुक्र गुजार माँ,
मेरी इक इक साह दे उते तेरा उपकार माँ,

कोई कष्ट जदो भी आवे,मन तेरा धयान धियावे,
भव सागर ढोल दी जिंदगी विच ज्योत तेरी जग जावे,
हलात हों जैसे भी तू ही बचैया दी पालनहार माँ,
मेरी इक इक साह दे उते तेरा उपकार माँ,

तेरी सूरत एह दसदी,
तू कंजका विच है हसदी,
अपने भगता दे घर माँ तू वरकत बन के वसदी,
हार साल जरूर मैं आवा कर दे उपकार माँ,
मेरी इक इक साह दे उते तेरा उपकार माँ,
download bhajan lyrics (18 downloads)