आज दीपावली की भक्तो रात है

घर घर में मंदिर है घर घर में पूजा है,
घर में पधारी लक्ष्मी आज है,
आज दीपावली की भक्तो रात है,

हर आएगी खुशियां भी लाएगी,
सब की वो रखती लाज है,
आज दीपावली की भक्तो रात है,

तेरे दिए धन से सारा जग पलता,
तेरे बिना जिंदगी का रथ नहीं चलता,
रनको को तुम्ही माँ राजा हो बना ती,
तुम ही दीं दुखियो के कष्ट हो मिटाती,
हम को उजाला दो रक्तो की माला दो,
धीरे चढ़त तेरा काज माँ,
आज दीपावली की भक्तो रात है,

माँ तेरी दया की दृस्टि जब होती है,
राहो के कंकर भी बन जाते मोती है,
शाम सवेरे तुझको पुकारे माँ,
तुझसे मिलते है सब को सहारा माँ,
सुखों का दान देती हम को वरदान देती,
पुरे करती सब के काज माँ,
आज दीपावली की भक्तो रात है,

दीपावली माँ तेरी ही पूजा कर तेरी आशीष से जीवन के दीप जले,
हर साल आना तू ख़ुशी संग लाना तू,
अपने बचो को मैया कभी न भुलाना तू,
विनती ये मन लो हमे यश मान दो,
सृष्टि पे तेरा ही राज माँ,
आज दीपावली की भक्तो रात है,
download bhajan lyrics (96 downloads)