मोपे नैनं में बतराये रसियां फागुन में

मोपे नैनं में बतराये रसियां फागुन में

रसियां रस को भवर बनो री मेरे यौवन पे मंडराए,
रसियां फागुन में,
मोपे नैनं में बतराये रसियां फागुन में

मेरे आगे पीछे ढोले मेरो घुंगट दे उठाये,
रसियां फागुन में,
मोपे नैनं में बतराये रसियां फागुन में

इक दिन मेरी आई अटारियाँ,
मोपे तिर्शी नजर चलाये,
रसियां फागुन में,
मोपे नैनं में बतराये रसियां फागुन में

राधा रमन करे बरजोरी,
मोहे अपने अंग लगाए रसियां फागुन में,
मोपे नैनं में बतराये रसियां फागुन में
श्रेणी
download bhajan lyrics (104 downloads)