मैं तेरे बिन रह नहीं सकदा माँ मैनू तेरी आदत पै गयी ए

मैं तेरे बिन रह नहीं सकदा माँ,
मैनू तेरी आदत पे गयी ए ।
मैं जूदइयाँ सह नहीं सकदा माँ ,
मैनू तेरी आदत पह गयी ए ॥

तूं सारे जग दी माँ है, मैनू मेरी माँ ने दस्या सी ।
बचैया लई ठंडी छां है, मैनू मेरी माँ ने दस्या सी ।
मैं मूहो कुछ कह नहीं सकदा माँ , मैनू........॥

मैनू हरपल महारानी तेरी ही याद सतउंदी ऐ
न दिन च चैन मिलदा ऐ न राति नींद ही औंदी  ऐ
मैं साह वी ले नहीं सकदा माँ, मैनू........॥

मैं तेरे रंग विच मैए अपना तन मन रंगेया ऐ
मैं होर कुछ न मंगया तेरा दीदार  ही मंगया ऐ
मैं खाली बह नहीं सकदा माँ ,मैनू ........॥

मेरे रोम रोम विच दाती तेरे ही नाम दी माला ऐ
मेरे चंचल मन विच मैया तेरा ही रूप निराला ऐ
ऐ घर हुन्न ढह नहीं सकदा माँ, मेनू तेरी जरूरत पे गयी ए
मैं तेरे बिन रह नहीं...
download bhajan lyrics (1401 downloads)