रूप कई नाम है हजारो

रूप कई नाम है हजारो कौन सा पुकारे बता दे मेरी माँ,

एक रूप तेरा वैष्णो रानी बेठी कटरा में भाग बनाये ,
दर्श को तेरे आये सवाली भगतो के माँ दुखड़े मिटाये ,
द्वार तेरे माँ जो भी आये उसके भाग तो जगा दो मेरी माँ,
रूप कई नाम है हजारो...

नैना देवी राह दिखाए चिन्तपुरनी माँ चिंता मिटाये,
जवाला देवी हर इक मन में भगती की माँ ज्योत जलाये,
मैया जी काली बन के भक्तो के संकट मिटा दे मेरी माँ,
रूप कई नाम है हजारो .....

करनि  देवी कर्म करो माँ शारदा मीठी कर दो वाणी,
माँ संतोषी मात भवानी दे संतोष हर इक प्राणी,
जीवन सफल बना दो तेरी ही महिमा गाये मेरी माँ,
रूप कई नाम है हजारो