आओ आओ श्री गणेश पधारो मोरे अंगना

रिद्धि सीधी के दाता माँ गोरी के ललना,
आओ आओ श्री गणेश पधारो मोरे अंगना,

भांति भांति के फूल मंगवा कर बंधन वार सजाये है,
श्रद्धा भक्ति और लग्न से अंगना चौंक पुराये है,
धुप द्वीप से हम ने महकाये हमने अंगना,
आओ आओ श्री गणेश पधारो मोरे अंगना,

पूजा थाल सजाये पवन घी के दीप जलाये है,
मेवा खीर मिठाये लड्डू मोदक भोग लगाए है,
मुश्क वाहन चढ़ आओ लगाओ देर न,
आओ आओ श्री गणेश पधारो मोरे अंगना,

ढोल मंजीरा जहांज बजा गुण गान तुम्हारे गाते है,
गिरजा नन्द आ जाओ तुम को आज भुलाते है ,
तेरे चरणों की प्रभु करते है वंदना,
आओ आओ श्री गणेश पधारो मोरे अंगना,

दमादोदर ग़ज़ानन  तुम्हे पुकारे आ जाओ,
हम है शरण तुम्हारे प्रभु जी बिगड़े काज बना जाओ,
सदा किशन बस रहे तेरे चरणों का दीवाना,
आओ आओ श्री गणेश पधारो मोरे अंगना,
श्रेणी
download bhajan lyrics (24 downloads)