क्यों घबराता है पल पल मन बावरे

क्यों घबराता है पल पल मन बावरे
चल श्याम शरण में मिलेगी सुख की छाँव रे
जीवन की राह में थक गए हो तेरे पाँव रे
ओ बावरे.....ओ बावरे

जो शरण श्याम की लेले वो फिर क्यों संकट झेले
जो श्याम भरोसे रहकर जीवन की बाज़ी खेले
जीत जायेगा हर एक हारा दाव रे
ओ बावरे......ओ बावरे

जो भी इस दुनिया में है श्री श्याम भरोसे चलता
परिवार सदा ही जिसका बाबा की कृपा से पलता
कभी न रहता खुशियों का अभाव रे
ओ बावरे.......ओ बावरे

ये सारे जग का दाता है सबका भाग्य विधाता
प्रेमी के हर आंसू का सावरिया मोल चुकता
हर प्रेमी के संग है इसको लगाव रे
ओ बावरे.........ओ बावरे

सुख दुःख हंस हंस कर सहना पर दूर न प्रभु से रहना
ये तेरे संग रहेगा मानो रोमी का कहना
इसको प्यारा है भक्त भजन और भाव रे
ओ बावरे........ओ बावरे
श्रेणी
download bhajan lyrics (126 downloads)