अम्बे मेरी कुल देवी

अम्बे मेरी कुल देवी , इसे मिलकर मनाएंगे
करके सिंगार माँ का , माँ की ज्योति जगाएंगे
अम्बे मेरी कुल देवी , इसे मिलकर मनाएंगे
करके सिंगार माँ का , माँ की ज्योति जगाएंगे

लाल लाल चोला है,
हरि हरि चूड़िया है,
मैया जी के माथे पे,
लाल बिंदिया सजाएंगे,
अम्बे मेरी कुल देवी……...

भैरो बाबा चवर ढुरे,
संग चले हर दम,
वीर बजरंगी से,
माँ की सेवा कराएंगे,
अम्बे मेरी कुल देवी……...

मैया जी के चरणों मे,
ध्यान को लगाकर के,
इस मन मंदिर में,
अपनी माँ को बिठाएंगे,
अम्बे मेरी कुल देवी……...

भेट चढ़ाएंगे
पान सुपारी नारियल
मीठे मीठे मतवाले,
माँ को भजन सुनाएंगे,
अम्बे मेरी कुल देवी……...

लाखो माँ ने तार दिए,
हमपे थोड़ी मेहर करे,
आशीर्वाद मिल जाए,
तो हम भी तर जाएंगे,
अम्बे मेरी कुल देवी……...

अम्बे मेरी कुल देवी , इसे मिलकर मनाएंगे
करके सिंगार माँ का , माँ की ज्योति जगाएंगे
अम्बे मेरी कुल देवी , इसे मिलकर मनाएंगे
करके सिंगार माँ का , माँ की ज्योति जगाएंगे
download bhajan lyrics (17 downloads)