रे चालो रे चालो चालो रे हरिद्वार

आया सावन आया भोले नाथ ने भुलाया रे गूंजे बम बम की जयकारे,
रे चालो रे चालो चालो रे हरिद्वार,

हरिकी पौड़ी जावा गे हम गंगा जी में न्हावा गे हम,
अपनी इश्का आके सुन लो सारे कष्ट मिटावा गे हम,
नहा के शुद्ध हो महारे विचार,
रे चालो रे चालो चालो रे हरिद्वार,

हरिद्वार का गज़ब नजारा भगता का उठे ला के लारा,
ऋषि केश में देख लिए लक्ष्मण झूला प्यारा प्यारा,
रे बोला सुन ले म्हारी पुकार,
रे चालो रे चालो चालो रे हरिद्वार,

भोले से घुट घुट बतलावा ज्योत जलवा कल भी चढ़ावा,
नील कंठ भोले के दर पे मस्ती में हम झूमा गावा,
करे मत भीम सेन पे वार,
रे चालो रे चालो चालो रे हरिद्वार,
श्रेणी
download bhajan lyrics (133 downloads)