सावन की बरसे बदरियाँ चलो भगतो शिव की नगरियां

सावन की बरसे बदरियाँ चलो भगतो शिव की नगरियां ,
कावड़ियाँ बोले हर हर बम बड़ा ही जाये रुके न कदम,

आया सावन मतवाला है भोले दुःख हरने वाला है,
कावड़ियों की भगति में मग्न बाबा ये डमरू वाला है,
गंगा जल से भर लो गगरियाँ चलो भगतो शिव की नगरियां,
कावड़ियाँ नाचे छम छम बड़ा ही जाये रुके न कदम,

देव घर में जो भी जाती है शिव को इशनान कराते है
उनकी भगति से बम भोले इक पल में खुश हो जाते है,
करते है आसान डगरियाँ चलो भगतो शिव की नगरियां,
जय कारा गूंजे हर हर बम बड़ा ही जाये रुके न कदम,
कावड़िया बोले हर हर बम बड़ा ही जाये रुके न कदम,
श्रेणी
download bhajan lyrics (138 downloads)