संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे

संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे,
दुष्टों से बचा लो प्राण तेरा गोवंस पुकारे रे,
संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे,

जब जब भी विपदा पड़ी जगत पर ले अवतार बचाया,
कैसे ब्यान हो मेरी कहानी मुझको तो मूक बनाया,
मुझे आके बचा लो न तेरा गो वंश पुकारे रे,
संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे,

मेरा मॉस और चरबी चमडा सब वपार बना है,
हार गई है चीखे हमारी तू सरकार कहा है,
अब सुन लो करूँ पुकार तेरा गो वंश पुकारे रे,
संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे,

माँ कहते जो वो ही कहानियां मेरा वध करवाए,
जब तक दूध मेरा फिर बोली मेरी लगाये,
अपनों में फसी है मेरी जान तेरा गो वंश पुकारे रे,
संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे,

बन कर के ग्वाल गोपाल कन्हियाँ फिर से आना होगा,
कट टी गाऊये तुम्हे पुकारे आन बचाना होगा,
अब धीर का रख लो मान तेरा गो वंश पुकारे रे,
संकट में है अब गोपाल तेरा गोवंश पुकारे रे,
श्रेणी
download bhajan lyrics (30 downloads)