सालासर मे बेठयो बाबो संकट काटे रे

तर्ज-  कुण जाणे या माया श्याम की

सालासर मे बेठयो बाबो , संकट काटे रे  
यो माँ अंजनी को लाल राम को ध्यान लगावे रे  

राम भक्त हनुमान बिराजे , सालासर के मन्दिर रे
संकट मोचन नाम कहिजे , मेहन्दीपुर के मन्दिर रे
बाबो संकट सबका काटे , जो नर आवे रे

जगमग थारी ज्योत जगे है , नौबत बाजे द्वारे रे
लाडू पेडा ओर चुरमो , थारे भोग लगावे रे
नारेला की गिनती कोनी , शिश झुकावे रे

बाबो बजरंग काज सवारे , देवे परचा भारी रे
जो भी इनकी शरण मे आवे , बेडा पार लगावे रे
जैजयकार लगावो मिलके , बाबो सागे रे

संजय तवँर
बिराटनगर नेपाल
00977- ९८४२०३०९५४
download bhajan lyrics (57 downloads)