हर हर बम बम गायेंगे है

बाबा अमरनाथ जागो कुछ करो न आस लगाये है,
बम के धमाकों में भी दीवाने हर हर बम बम गायेंगे है,

आतंकी आतंक कर रहे क्यों न कुछ तुम बोल रहे,
भोले कब तक भोले रहोगे क्यों त्रि नेत्र न खोल रहे,
डमरू की डम डम में मस्त है कोई संख भजाये है,
बम के धमाकों में भी दीवाने हर हर बम बम गाये है,

लाखो भक्त चले है घर से आप के दर्शन पाने को,
चाहे जान चली जाये है फ़िक्र नहीं दीवानो को,
प्रेम केसर है और संदीप ने फिर से शब्द सजाये है,
बम के धमाकों में भी दीवाने हर हर बम बम गाये है,
श्रेणी
download bhajan lyrics (19 downloads)