तू मारे या तारे साई बाबा हम है दास तुम्हारे

तू मारे या तारे साई बाबा हम है दास तुम्हारे,

जब से अपनी आँख खुली है,
दिन उजला और शव उजली है,
जागे भाग हमारे साई बाबा हम है दास तुम्हारे,

सदियों से थे पर्दे दिल पर आ पहुंचे अपनी मंजिल पर,
आखिर तेरे सहारे साई बाबा हम है दास तुम्हारे

हम तड़पत है तेरे दर्शन को,
माँगत है तुझसे तेरे मन को,
कब से हाथ पसारे,
साई बाबा हम है दास तुम्हारे,

खोज में तेरी नीर भहाये,
जाने और कहा ले जाये,
इन अखियां के धारे,
साई बाबा हम है दास तुम्हारे,

हर संकट हर पीड़ को देखो,
भक्त जनो की भीड़ को देखो,
कोई न पथर मारे,
साई बाबा हम है दास तुम्हारे,
श्रेणी
download bhajan lyrics (15 downloads)