गुफा मोहरे खड़ के

गल सुन ले पेहरेदारा जोगी बिन साडा नहीं गुजारा,
रूह राजी कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के,
इक सेल्फी कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के

कोई भजाउँदा ढोलक चिमटा कोई भजाउँदा छैने,
दर तेरे ते पैन धमाला भगता दे की कहने,
आज दिल दियां कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के
इक सेल्फी कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के

बाबा जी दे भगत प्यारे चल पंजाब तो आये,
सिद्ध जोगी ने चिठियाँ पा के दर आप भुलाये,
चा पुरे कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के
इक सेल्फी कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के

बिबिया बेहना ताई मिल के दर दे गिद्दा पौना,
कमाल पुरिये ने भी सारा दिल दा हाल सुनाना,
सिर चरनी धर लें दे गुफा मोहरे खड़ के
इक सेल्फी कर लें दे गुफा मोहरे खड़ के
download bhajan lyrics (50 downloads)