मेरा बाबा श्याम सारे जग से निराला है

मेरा बाबा श्याम सारे जग से निराला है
खाटू वाला श्याम
मेरा बाबा श्याम सारे जग से निराला है
ये लागे सबसे न्यारा है
मेरा बाब श्याम...............

लटें है घुंघराली आँखें हैं कजरारी केरी का बाघा है
होंठों पे है लाली सूरत है मतवाली गले में माला है
इत्र की खुशबु से सारे भक्तों को महकता है
ये जग से निराला है
मेरा बाबा श्याम ...............

तीन बाणधारी लीले की असवारी वचन का पक्का है
ये कृष्णा अवतारी कलयुग का भवतारी हारे का साथी है
भजनो की सरिता में अपने भक्तों को नहलाता है
ये जग से निराला है
मेरा बाबा श्याम ...............

बिना कहे ही ये फरियाद सुनता है ये ऐसा दाता है
भक्तों के कष्टों को ये भांप लेता है ये ऐसा स्वामी है
हम सबके जीवन पथ पर से काँटों को हटाता है
ये जग से निराला है
मेरा बाबा श्याम ...............
श्रेणी
download bhajan lyrics (315 downloads)