नी मैं श्याम मनाना ऐ चाहे लोक बोलिया बोले

नी मैं श्याम मनाना ऐ चाहे लोक बोलिया बोले,

वृन्दावन विच श्याम मेरे दा कण कण दे विच डेरा,
दिन नु रात बना दिंदा रात दा करे सवेरा,
वृन्दावन जाना है चाहे लोक बोलियां बोले,
नी मैं श्याम मनाना ऐ चाहे लोक बोलिया बोले,

इक पल चैन ना आवे मैनु जद तक श्याम ना देखा,
मैं श्याम दी श्याम मेरा ता विच लिखाया लेखा,
नी मैं दुखड़ा सुनाना है चाहे लोक बोलियां बोले,
नी मैं श्याम मनाना ऐ चाहे लोक बोलिया बोले,

श्याम मेरा है बड़ा ही सोहना लगदा है बड़ा प्यारा,
श्याम मेरे दी किरपा ने ता तारेया है जग सारा,
मैं दर्शन पौना है चाहे लोक बोलियां बोले,
नी मैं श्याम मनाना ऐ चाहे लोक बोलिया बोले,
श्रेणी
download bhajan lyrics (64 downloads)