गुरु जी मेरा जी करदा

गुरु जी मेरा जी करदा,
तेरे दर दी खाख हो जावा
वे चरनी लग के पाक हो जावा,
गुरु जी मेरा जी करदा,

मैं लखा ही जन्म गवाये गुरु जी तेरे दर्शन नु
मैं मुड मुड जग विच आवा गुरु जी तेरे पर्सन नु,
मेरे नैना दी प्यास भुजादो गुरु जी मेनू अपना दर्श दिखा दो,
गुरु जी मेरा जी करदा,

तुहाडी फुलवाड़ी विच गुरु जी फूल बन बेठा मैं,
तुहाडे गुण गावा हर वेले पंशी बन के कहंदा मैं,
बना बदल दुआरे बरस जावा मल मल  धोवा तेरियां राहावा ,
गुरु जी मेरा जी करदा,

मेनू भव सागर तो तार पार कर वेहडी मेरी,
तुसी करो मेरा उधार शरन आया मैं तेरी,
दास तेरा है भिखारी गुरु जी तेरे चरना दा पुजारी,
गुरु जी मेरा जी करदा,

मैं लखा ही जन्म गवाये गुरु जी तेरे दर्शन नु,
मैं मुड मुड जग विच आवा गुरु जी तेरे प्रसन नु,
मेरे नैना दी प्यास भुजा दो मेनू अपना दर्श दिखा दो,
गुरु जी मेरा जी करदा,