तेरी किरपा हुई सब ते ताहि ता दरबार आई हां

तेरी किरपा हुई सब ते ताहि ता दरबार आई हां,
बड़ी मजबूर हा साई ज़माने दी सताई आ,
तेरी किरपा हुई सब ते ताहि ता दरबार आई हां,

तेरे दरबार च सब दी झोली भरदी है साई,
शारदा सबुरी मेरा बाबा किरपा करदा है साई,
बनी जोगन मैं साई दी जमाने दी सताई हा,
तेरी किरपा हुई सब ते ताहि ता दरबार आई हां,

मैं पापी हा मैं निर्बल हा मेरा न कोई इस जग विच,
मेरे साई जी मेहर करो मैं तेरे दर ते आई हां,
मैं बस अपने साई दी मंगती ही कहलाई हा,
तेरी किरपा हुई सब ते ताहि ता दरबार आई हां,

मैं साई दी दीवानी हा मेरा साई सहारा है,
मेरा साई बड़ा न्यारा मेरा साई सहारा है,
बड़ी मुश्किल तो साई जी सूखा दी राह पाई है,
तेरी किरपा हुई सब ते ताहि ता दरबार आई हां,
श्रेणी
download bhajan lyrics (42 downloads)