नाम साई का बोल रे प्यारे

साई साई साई साई साई साई साई साई साई,

साई राम मेरे साई राम,
नाम साई का बोल रे प्यारे नाम साई का बोल रे.
साई साई साई साई साई साई साई साई साई,

सुख में भी बोलो साई साई,
दुःख में भी बोलो साई साई,
इस दुनिया का मालिक साई साई,
सारे जग का पालक साई साई,
मेरे रोम रोम में साई साई और कण कण में भी साई साई,
साई साई साई साई साई साई साई साई साई,

हर दिल के अंदर साई साई,
मेरा सूरज चन्दर साई साई,
मेरा मस्त कलंदर साई साई,
हर जीव के अंदर साई साई,
हर फ़कीर के अंदर साई साई,
साई साई साई साई साई साई साई साई साई,

हर पुण्य पा में साई साई,
है माँ बाप में साई साई,
शीतल और ताप में साई साई,
है दिन और रात में साई साई,
है करा मात में साई साई,
सारे कायनात में साई साई,
साई साई साई साई साई साई साई साई साई,
श्रेणी