मेरे जन्मा दी प्यास भुजा दे

मेरे जन्मा दी प्यास भुजा दे माँ तेरा केहडा मूल लगदा माँ,

शाम सवेरे पूजा करिये निश दिन तेरी हजारी भरिये,
साड़े माये नि लेख बना दे,
माँ तेरा केहड़ा मूल लगदा,

ओगन हारी मैं गुण नाही,
हाल फकीरा अन्दरो ताहि,
सहनु रब दे दीदार करा दे,
माँ तेरा केहड़ा मूल लगदा,

हंस नु माये लोड है तेरी,
होर न दुःख दे बस माँ मेरी,
ओहदी किस्मत नु अर्श दिखा दे,
माँ तेरा केहड़ा मूल लगदा,

लक्की भी माये गुण गाये तेरे,
आजा माँ किस गल दी देर है,
सहनु माये नि दर्श दिखा दे,
माँ तेरा केहड़ा मूल लगदा,