शान तो देखो कृष्ण कन्हाई कान्हा की

शान तो देखो कृष्ण कन्हाई कान्हा की
देवकी यशोदा दो दो मायें कान्हा की
शान तो देखो ..........

पापी दुशासन करने लगा जब चीयर हरण
द्रौपदी ने तब दी है दुहाई कान्हा की
शान तो देखो ..........

रथ का पहिया चक्र सुदर्शन बन बैठा
इसमें भी तो थी चतुराई कन्हाई की
शान तो देखो ..........

शेषनाग को वश में कर लिया कान्हा ने
ये भी तो है लीला रचाई कान्हा की
शान तो देखो ..........

दौड़ी दौड़ी आई मधुबन में राधा
बंसी उसको ऐसी भाई कान्हा की
शान तो देखो ..........
download bhajan lyrics (69 downloads)