श्याम का सिक्का चलता है

राहु केतु और शनिश्चर
जोर किसी का ना चलता है
चलता है यहाँ चलता है
मेरे श्याम का सिक्का चलता है

जिसपे रेहमत श्याम धनि की
उसकी किस्मत खुल जाती
सिर से बोझ उतर जाता
और सारी विपदा टल जाती
इसके एक इशारे पे
किस्मत का लेख बदलता है
चलता है यहाँ चलता है
मेरे श्याम का सिक्का चलता है

सारी सरकारों से ऊंची
बाबा की सरकार है
शीश का दानी खाटूवाला
कलयुग का अवतार है
जग जाहिर है
श्यामधणी का हुक्म कभी ना टलता है
चलता है यहाँ चलता है
मेरे श्याम का सिक्का चलता है

राहु केतु और शनिश्चर
जोर किसी का ना चलता है
चलता है यहाँ चलता है
मेरे श्याम का सिक्का चलता है

संपर्क - +919831258090
download bhajan lyrics (357 downloads)