कान्हा खो गया दिल मेरा तेरे वृंदावन मे

कान्हा खो गया दिल मेरा तेरे वृंदावन मे

तेरी मुरली की धुन जो बजती है,
सारी गोपियों को प्यारी लगती है ।
कैसा जादू भरा इन तानों मे,
कान्हा खो गया दिल मेरा तेरे वृंदावन मे ॥

तेरी जमुना की निर्मल धारा है,
सभी पापियों को इस ने तारा है ।
कैसा जादू भरा इन लेहरो मे,
कान्हा खो गया दिल मेरा तेरे वृंदावन मे ॥

तेरे मंदिरों मे चेन मिलता है,
फूल मुरझाया फ़िर से खिलता है ।
कैसा जादू भरा इन नेनो मे,
कान्हा खो गया दिल मेरा तेरे वृंदावन मे ॥

Uploaded By : श्रवन बठला, करनाल 9812312425
श्रेणी
download bhajan lyrics (134 downloads)