सईओ नी मेरे सत्गुरा दा एह प्यार अनोखा है

सईओ नी मेरे सत्गुरा दा एह प्यार अनोखा है
बाकि सारा जग लगदा मैनु धोखा ही धोखा है

नौ दरवाजे तू, बंद कर लै बंदेया,
एहना नू बंद कर के, लुट लै आनंद बंदेया ।
लुट लो खजाना नाम दा देंदे गली गली होका है
सईओ नी मेरे सत्गुरा दा...

जनमा जनमा तो रुलदा सी मैं आया,
सतगुर माँ बनके चरना दे नाल लाया ।
नाम वाला रंग नी साइयो सरे जग तो अनोखा है
सईओ नी मेरे सत्गुरा दा...

सार कोई लैंदा नहिओ, लैंदे मेरे सत्गुरुर ने,
होर कोई पुछदा नहीं पुछदे मेरे सत्गुरुर ने ।
गुरु दिल रहम पया,  कटेया जन्मा दा लेखा है,
सईओ नी मेरे सत्गुरा दा...