आओ दादी भगतों मिलकर साथ चलें

आओ दादी भगतों मिलकर साथ चलें ,
नारायणी चरित महामंगल पाठ करें ।
अम्बिकापुर में मंदिर बना निराला है ,
दर्शन जो करले वो किस्मत वाला है ।
आओ दादी भगतों मिलकर साथ चलें ,
नारायणी चरित महामंगल पाठ करें ।

महा ये मंगल-पाठ दादी का अनोखा है,
दादी की सेवा का हमको मिला ये मौका है ।
जहां 'सौरभ मधुकर' भजनों की बरसात करें ,
नारायणी चरित महामंगल पाठ करें ।
आओ दादी भगतों मिलकर साथ चलें ,
नारायणी चरित महामंगल पाठ करें ।

अम्बिकापुर में मंदिर बना निराला है ,
दर्शन जो करले वो किस्मत वाला है ।

भजन गायक - सौरभ मधुकर
भजन रचयिता - मधुकर
download bhajan lyrics (110 downloads)