उत्कल की पावन धरती पर इक धाम बड़ा मशहूर

उत्कल की पावन धरती पर इक धाम बड़ा मशहूर
राणी सती दादी जी का मंदिर बिरमित्रापुर
उत्कल की पावन धरती पर इक धाम बड़ा मशहूर ॥

दिवाली दीपोत्सव की और फूलों की होली,
सिंधारा राणी सती का, होगी महा-आरती ।
शोभा-यात्रा की शोभा में आना सब जरूर,
राणी सती दादी जी का मंदिर बिरमित्रापुर
उत्कल की पावन धरती पर इक धाम बड़ा मशहूर ॥

अष्टम नारायणी नमो-नमो भजनोत्सव दादी का,
है स्वर्ण-जयंती बिरमित्रापुर दादी मंदिर का ।
भगतों पे किरपा बरसेगी मेरी दादी की भरपूर ।
राणी सती दादी जी का मंदिर बिरमित्रापुर
उत्कल की पावन धरती पर इक धाम बड़ा मशहूर ॥

है तीन-दिवसीय उत्सव दादीवालों के साथ,
सौरभ मधुकर गाएंगे भजन , हम करेंगे मंगल-पाठ,
राणी सती सेवा ट्रस्ट की फ़रियाद हुई मंजूर ।
राणी सती दादी जी का मंदिर बिरमित्रापुर
उत्कल की पावन धरती पर इक धाम बड़ा मशहूर ॥

भजन गायक - सौरभ मधुकर
भजन रचयिता - मधुकर
download bhajan lyrics (16 downloads)