सामने आओगे या आज भी पर्दा होगा

सामने आओगे या आज भी पर्दा होगा,
रोज़ अगर ऐसा ही होगा तो कैसा होगा ।

मौत आती है तो आ जाए कोई गम ही नहीं,
वो भी तो आएगा तो मेरा मसीहा होगा ।

मैंने मोहन को बुलाया है वो आता होगा,
तुम भी आना मेरे घर आज तमाशा होगा ।

हम गुहगारो ने सोचा ही नहीं था प्यारे,
जिक्र मोहन की गली में भी हमारा होगा ।
download bhajan lyrics (233 downloads)