राम के चरणों में जो भी आ गया

राम के चरणों में जो भी आ गया,
कुल जहां की नेमते वो पा गया ।

नहीं दिखा जब मुझे किनारा सामने,
डूबती कश्ती किये मैं आ गया ।
कुल जहां की नेमते...

नहीं मिली मंज़िल जिसे संसार में,
तेरे दर पे सर झुकाने आ गया ।
कुल जहां की नेमते...

अपने भक्तो के सँवारो काज तुम,
ले यही अरदास मैं भी आ गया ।
कुल जहां की नेमते...

बन्दे तू भी नाम जपले राम का,
तर गया जो भी शरण में आ गया ।
कुल जहां की नेमते...
श्रेणी
download bhajan lyrics (102 downloads)